Friday, June 14, 2019




श्‍वेत दम्भ, श्‍वेत विरक्ति

श्‍वेत संस्कार, श्‍वेत क्रांति

दादे के नुस्के भी श्‍वेत, साहित्य के नायक भी श्‍वेत

श्‍वेत अभिव्यक्ति, श्‍वेत आत्मविश्वास

श्‍वेत रात्रि, श्‍वेत अब सर्वव्यापी श्याम


चरया जा रा हुं श्‍वेतसागर की ओर।
इक डुबकी संभवतः पूर्ण करदे मुझ्ेभी

No comments:

Post a Comment